राजस्थान रिती-रिवाज एवं प्रथाएँ टेस्ट-03

0%
12

Rajasthan GK In Hindi

रिती-रिवाज एवं प्रथाएँ -03

1 / 20

1. हरविलास शारदा द्वारा 1929 में पारित ‘शारदा एक्ट’ में लड़के व लड़की की विवाह योग्य आयु क्रमशः रखी गई -

2 / 20

2. ग्रामीण क्षेत्रों में सब्जी व अन्य सामान खरीदने के बदले दिया जानेवाला अनाज क्या कहलाता है -

3 / 20

3. बढार का भोज निम्न में से किस मौके पर रखा जाता है -

4 / 20

4. उदयपुर राज्य में ‘डाकन प्रथा’ पर प्रतिबन्ध कब लगाया गया -

5 / 20

5. आदिवासियों में प्रचलित लीला-मोरिया संस्कार किस अवसर से जुड़ा हुआ है -

6 / 20

6. राजस्थान में गोला, दरोगा, चाकर, चेला आदि सम्बोधन किसके लिए प्रयुक्त होते थे -

7 / 20

7. ‘झिम्मी’ क्या है -

8 / 20

8. आखा से क्या आशय है -

9 / 20

9. भेंट स्वरूप दिया जाने वाला वस्त्र विशेष क्या कहलाता है -

10 / 20

10. ईश्वर चन्द विद्यासागर ने किस प्रथा को समाप्त करने का बीड़ा उठाया -

11 / 20

11. ‘सहगमन’ प्रथा का संबंध था -

12 / 20

12. ‘पड़दायत, खवासन, पासवान’ नामक महिलाएं संबंधित थी -

13 / 20

13. ‘गौना’ रस्म किससे संबंधित है -

14 / 20

14. बाखड़ी शब्द प्रयुक्त किया जाता है -

15 / 20

15. बिंदोली, सामेला और पड़ला किस समारोह से संबंधित हैं -

16 / 20

16. राजस्थान में ‘राइका’ जाति किस पशु से संबंध है -

17 / 20

17. गर्वनर जनरल लाॅर्ड बेंटिक ने निम्न स्थलों पर सती प्रथा रोकने के आदेश दिए। निम्न में से कौन सा युग्म सही नहीं है -

18 / 20

18. दीपदान परम्परा का सम्बन्ध ................ पवित्र शहर से है -

19 / 20

19. कथन अ: राजस्थान की लोक परंपरा किसी एक व्यक्ति या एक व्यक्ति समूह की सर्जना नहीं है।
कारण र: लोक परम्परा मानवता की स्वतः स्फूर्त अभिव्यक्ति है।

20 / 20

20. किस समारोह में, किसी देवता या देवी के सामने छोटे बच्चे के बाल पहली बार काटे जाते हैं -

Your score is

The average score is 57%

0%

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *